Sunday, 27 March 2016

नए कलेवर में 'मिशन यूपी' पर संघ


----
-संघ प्रमुख आज से तीन दिन के लखनऊ प्रवास पर
-प्रचारकों की बैठक, भाजपा के संगठन मंत्री बुलाये गए
----
राज्य ब्यूरो, लखनऊ : राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ नए तेवर-कलेवर के साथ 'मिशन यूपी' पर सक्रिय होने जा रहा है। संघ प्रमुख मोहन भागवत रविवार से तीन दिन के लखनऊ प्रवास पर रहेंगे। रविवार से ही शुरू हो रही प्रदेश के संघ प्रचारकों की बैठक में भाजपा के संगठन मंत्रियों को भी बुलाया गया है।
उत्तर प्रदेश की मौजूदा राजनीतिक व सामाजिक परिस्थितियों में संघ के कामकाज को नियोजित विस्तार देने व मौजूदा स्थितियों की समीक्षा के लिए प्रदेश में सक्रिय प्रचारकों की तीन दिवसीय बैठक राजधानी लखनऊ में रविवार से शुरू हो रही है। हाल ही में राजस्थान के नागौर में हुई अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा की बैठक में संघ ने हॉफ पैंट की जगह फुल पैंट को गणवेश का हिस्सा बनाने का फैसला लिया है। इस तरह अब स्वयंसेवकों का कलेवर बदल रहा है, वहीं तमाम प्रचारकों के तबादले व दायित्वों में भी परिवर्तन हुआ है। इन परिवर्तनों के बाद प्रदेश में हो रही पहली बैठक महत्वपूर्ण मानी जा रही है। इस बैठक में संघ ने अपने उन प्रचारकों को भी बुलाया है, जो भाजपा में संगठन मंत्री का दायित्व संभालते हुए संघ का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं।
संघ ने उत्तर प्रदेश को लेकर गंभीर रणनीति बनाई है। यही कारण है कि सह सर कार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले अब लखनऊ में केंद्र बनाकर रहेंगे। अभी तक वह पटना में रह रहे थे। संघ प्रमुख मोहन भागवत भी रविार से तीन दिवसीय प्रवास पर लखनऊ पहुंच रहे हैं। वह प्रदेश की बदली राजनीतिक परिस्थितियों पर विमर्श के साथ संघ की शाखाओं के विस्तार पर भी चर्चा करेंगे। माना जा रहा है कि तीन दिनों की प्रचारकों की बैठक और इस दौरान संघ प्रमुख की उपस्थिति से संघ के 'मिशन यूपी' की रूपरेखा भी बन जाएगी। इस बैठक में संघ के मूल कामकाज में सक्रिय प्रचारकों की भूमिका के साथ भाजपा के संगठन मंत्री के रूप में काम कर रहे प्रचारकों की भूमिका पर भी निश्चित रूप से चर्चा होगी। संघ प्रमुख 28 मार्च को चारबाग क्षेत्र के एपी सेन रोड स्थित भारतीय किसान संघ के नवनिर्मित कार्यालय भवन का उद्घाटन करेंगे। 29 मार्च को संघ प्रमुख रायबरेली रोड स्थित माधव सेवाश्रम की नयी विंग का लोकार्पण करेंगे।
जन से किसान की यात्रा का साक्षी रज्जू भैया भवन
संघ प्रमुख मोहन भागवत किसान संघ के जिस भवन का लोकार्पण करेंगे, उसका नामकरण पूर्व सरसंघ चालक प्रो.राजेंद्र सिंह (रज्जू भैया) पर किया गया है। रज्जू भैया स्मृति भवन जन से किसान तक की यात्रा का साक्षी भी है। 1948 में आवंटन के बाद संघ कार्यालय के रूप में इसका प्रयोग शुरू हुआ था। पं.दीनदयाल उपाध्याय, नानाजी देशमुख, भाऊराव देवरस, डॉ.श्यामा प्रसाद मुखर्जी आदि यहां रहते थे। 9151 में जनसंघ की स्थापना के बाद यहां जनसंघ का प्रांतीय कार्यालय रहा। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी इसी भवन के पते से लखनऊ के मतदाता रहे। 1979 में यहां किसान संघ का कार्यालय स्थापित हुआ।

No comments:

Post a Comment