Monday, 23 November 2015

पेंशनर 15 दिसंबर तक जमा करें जीवन प्रमाण पत्र


---
-कोषागारों में उमड़ी भीड़ से निपटने की कवायद
-नहीं उठाते कभी भी जमा करने की सुविधा का लाभ
---
राज्य ब्यूरो, लखनऊ : कोषागारों के बाहर भीड़ में परेशान हो रहे पेंशनरों के लिए खुशखबरी। वे 15 दिसंबर तक अपना जीवन प्रमाण पत्र जमा कर सकेंगे। पेंशनरों द्वारा वर्ष में कभी भी जीवन प्रमाण पत्र जमा करने की सुविधा का लाभ न उठाने के कारण कोषागारों में उमड़ रही भीड़ से निपटने के लिए यह फैसला किया गया है।
इस समय सभी 75 कोषागारों में सुबह होते ही पेंशनर जुटने शुरू हो जाते हैं। कहीं धूप में पड़ी बेंचों पर तो कहीं पेड़ की छांव में ये बुजुर्ग फार्म भरने के साथ ही अपने जीवित होने का प्रमाण जमा करने की मशक्कत करते हैं। पेंशनरों को दिसंबर माह की पेंशन पाने के लिए 30 नवंबर तक अपने जीवित होने का प्रमाण पत्र जमा करना है। कोषागार विभाग का नियम तो यह है कि वे वर्ष में कभी भी कोषागार या अपनी बैंक में जाकर अपना जीवन प्रमाण पत्र जमा कर सकते हैं, किन्तु अधिकांश ने ऐसा नहीं किया है। दरअसल पिछले वर्ष तक नवंबर माह में ही हर हाल में जीवन प्रमाण पत्र जमा करने का नियम था। इस बार नियम तो बदला किन्तु अनिवार्यता न होने के कारण पेंशनर बीच में नहीं आए। अब सभी पेंशनर कोषागार पहुंच रहे हैं और वहां भीड़ लग रही है। अब कोषागार महकमे को नवंबर के आखिरी कुछ दिनों में कोषागारों में अत्यधिक भीड़ उमडऩे की उम्मीद है। इससे निपटने के लिए कोषागारों को निर्देश दिये गए हैं कि 15 दिसंबर तक आने वाले सभी जीवन प्रमाण पत्रों को प्रोसेस किया जाए, ताकि उन सभी को पेंशन मिल सके। नवंबर की पेंशन तो सभी को वैसे ही मिल जाएगी। पेंशनरों से भी कहा जा रहा है कि वे अगले साल से कुछ माह पूर्व जीवन प्रमाण पत्र जमा करने का चक्र बना लें।
---
500 कर्मचारी, 11 लाख पेंशनर
कोषागारों में उमड़ रही भीड़ के पीछे बड़ा कारण कर्मचारियों की संख्या खासी कम होना है। कोषागार महकमे को प्रदेश में 1600 कर्मचारियों की जरूरत है। इसके विपरीत महज 500 कर्मचारी है। कर्मचारी तो घट रहे हैं किन्तु पेंशनर लगातार बढ़ रहे हैं। इस समय कोषागार से लगभग 11 लाख पेंशनरों को पेंशन मिलती है। वैसे अधिकारियों को अगले कुछ महीनों में इस समस्या का समाधान होने की उम्मीद है। बीते रविवार को हुई कर्मचारी चयन आयोग की परीक्षा के बाद चयनित कर्मियों में कोषागारों की भी हिस्सेदारी होगी।
----
कर्मी मुस्तैद, घर तक जाएंगे
पेंशनरों की सुविधा के लिए कोषागारों में कर्मचारी मुस्तैद हैं। 15 दिसंबर तक जीवन प्रमाण पत्र जमा करने वालों को भी हर हाल में दिसंबर की पेंशन मिलेगी। कोषागार न पहुंच सकने वालों के परिजन सूचना दें, तो कोषागारकर्मी उनके घर जाकर जीवन प्रमाण पत्र ले आएंगे। - लोरिक यादव, निदेशक कोषागार

No comments:

Post a Comment