Friday, 25 September 2015

सभी मेडिकल कालेजों में होगी नर्सिंग की पढ़ाई

-बढ़ेंगी 620 सीटें, स्टेट मेडिकल फैकल्टी का फैसला
-सभी कालेजों में पैरामेडिकल पाठ्यक्रम भी बढ़ेंगे
राज्य ब्यूरो, लखनऊ : प्रदेश के सभी मेडिकल कालेजों में नर्सिंग की पढ़ाई कराई जाएगी। बुधवार को हुई स्टेट मेडिकल फैकल्टी की बैठक में अगले शैक्षिक सत्र से इन कालेजों के माध्यम से सरकारी क्षेत्र में नर्सिंग की 620 सीटें बढ़ाने का फैसला हुआ। साथ ही सभी मेडिकल कालेजों में पैरामेडिकल पाठ्यक्रम भी बढ़ाए जाएंगे।
स्टेट मेडिकल फैकल्टी के अध्यक्ष डॉ.वीएन त्रिपाठी ने बताया कि पुराने मेडिकल कालेजों में सिर्फ गोरखपुर व झांसी में नर्सिंग पाठ्यक्रम नहीं चल रहे थे। अब इन दोनों कालेजों में सौ-सौ सीट के नर्सिंग स्कूल खोलने का फैसला लिया गया है। साथ ही पिछले कुछ वर्षों में नए खुले कन्नौज, जालौन, आजमगढ़, अम्बेडकर नगर व सहारनपुर मेडिकल कालेजों में 60-60 सीटों के साथ नर्सिंग स्कूल खोलने का फैसला हुआ है। अगले सत्र से प्रस्तावित बांदा व बदायूं मेडिकल कालेजों में भी 60-60 सीटों वाले नर्सिंग स्कूल खुलेंगे। सभी प्राचार्यों से इस बाबत तैयारी कर नर्सिंग काउंसिल में आवेदन करने को कहा जाएगा। इससे राज्य के सरकारी क्षेत्र में नर्सिंग की 620 सीटें बढ़ जाएंगी। इसके बाद नर्सों की उपलब्धता भी और आसान होगी। बैठक में सभी मेडिकल कालेजों में पैरामेडिकल पाठ्यक्रम बढ़ाने का भी फैसला लिया गया। कन्नौज, जालौन, आजमगढ़, अम्बेडकर नगर व सहारनपुर मेडिकल कालेजों में फिजियोथिरैपी, ऑप्टोमिट्री, ओटी व लैब टेक्नीशियन, इमरजेंसी व ट्रामा टेक्नीशियन, ब्लड ट्रांसफ्यूशन टेक्नीशियन सहित 24 पाठ्यक्रमों का संचालन अगले शैक्षिक सत्र से करने का फैसला भी हुआ है।

No comments:

Post a Comment